aelolive

Let's Walk Like a Mystic

Image Slider

The death of Ego/block-2

Stop and Enjoy the View 'Quotes'

Friday, December 3

 Stop and Enjoy the View

रुको और दर्श्य का आनंद लो 




Life is made beautiful by experiences - even if the experience is of pain

1-  A good idea never remains in anyone's captivity, it is good - that's Why it will fly into the infinite.


अच्छा विचार कभी भी किसी की क़ैद में नहीं रहता, वो अच्छा है- इस लिए ही वो असीमता में उड़ेगा। 


2-  Deep experiences come from deep life


गहरे अनुभव गहरे जीवन में से ही आतें हैं 


3-   Everything in life has a special style


जीवन की हर चीज़ ही एक ख़ास अदा होती है 


4-   What we seek, our lifestyle depends on our search.


हम क्या खोजतें हैं, हमारी जीवन-शैली हमारी खोज पर ही  निर्भर है। 


5-  I always kept myself free from all limits to see the beauty of life right.


मैंने जीवन की सुंदरता को सही देखने के लिए खुद को सदा हर सीमा से आज़ाद ही रखा।  


6-  The real beautiful sight of life is When our existence becomes silent.


ज़िंदगी का असली सुन्दर नज़ारा वो होता है, जब हमारा अस्तित्व चुप हो जाए।


7-  When we actually see any vision, then there will definitely be a reflection in our life.


जब हम वास्तव में कोई भी दर्श्य को देखतें हैं तो हमारे जीवन में पर्तिकिर्या  ज़रूर ही होगी।

 

 8-  No matter How beautiful the view is, but if the nature of a person is charming, then life is beautiful.


दर्शय कितना भी सुन्दर  क्यों न हो, पर अगर किसी व्यक्ति का स्वभाव मनमोहक है तो  जीवन सुन्दर  है। 


9-   Hopeful life is that Which, even without legs, attains the destination by walking on the knees.


आशाबादी जीवन वो होता है, जो टांगों के न होने पर भी घुटनों पर चल के मंज़िल प्राप्त करता है। 


10-  Deep experiences always come wearing the color of the soul.


गहरे अनुभव सदा ही आत्मा के रंग को पहन कर आतें हैं। 


11-  The real beauty and music of life lies in every climb.


हर चढ़ाई में ही जीवन की असली सुंदरता और संगीत होता है।  


12-   When the beautiful views of nature made me recognize my existence, I did not even know.


कुदरत के मनमोहक नज़ारों ने कब मेरे को मेरे अस्तित्व की पहचान करवा दी, मेरे को पता ही न चला। 


13-  Every path of life requires not only a special search, but also a special soul.


ज़िंदगी की हर राह के लिए ख़ास खोज ही नहीं, ख़ास आत्मा की भी ज़रुरत होती है। 


14-   Do you feel some beauty that is deep inside you – When you look at this sight of nature?

 

क्या आप को कोई ऐसी सुंदरता का एहसास होता है, जो आप के बहुत गहरे में है- जब आप कुदरत के इस नज़ारे को देखते हो?


15-   Beauty is a natural method Which makes the mind thoughtless.


सुंदरता एक कुदरती विधि है जो मन को निर्विचार करती है !


16-  By living naturally in nature, the mind attains the state of peace. 


कुदरत में कुदरती तौर पर रहने से ही मन अमन  स्थिति को प्रापित कर लेता है।


17-   Through these photos and videos, I have always tried to share with you that feeling Which was in me at that time – are these photos and videos helpful in making you a lover of nature or not?


इन फोटोज और वीडियो के ज़रिये भी मैंने सदा अपनी उस भावना को आप के साथ साँझा करने की कोशिश की है, जो उस वक़्त मेरे में थी- क्या आप को यह फोटोज और वीडियो कुदरत का प्रेमी बनाने में मददगार है या नहीं?


18-   When We live with nature, We soon become one with our own nature


जब हम कुदरत के साथ रहतें हैं तो हम जल्दी ही खुद के स्वभाव के साथ एक हो जातें हैं।



अनुभवों से ही जीवन सूंदर बनता है-चाहे अनुभव दर्द का ही हो 

Thanksgiving Day

Thursday, November 25

ThankSgiving Day






 My every breath comes from 'ThankS'; Every step of mine arises from 'ThankS'; My every action is a blessing of 'ThankS'; Every moment of mine has blossomed with the blessings of 'Thank You'.

So 'Thanks' EveryOne.

Is there any feeling that I have to say a special 'ThankS' today? So my thoughts started to blossom. Special 'ThankS'! Today I also have to say 'ThankS' to Someone, but to say it is to Someone Special. WHO is THAT?

Today I have to give a special 'ThankS' to the one due to Which this 'ThankS' was born.

That beautiful feeling, due to Which a feeling of 'ThankS' arises in any Living being; The experience Which is very deep, but the Soul does not even have the tongue to say it; The experience that bends the existence of the Living entity; Who fills the eyes with water; Who snatches the Words from the tongue; One who considers one-self smaller than Every word; That moment that even saying 'ThankS' feels TOO small; The creature just bows down. Today I want to say 'ThankS' To That Moment - To That Feeling - To That Experience - To That Tilted Gaze - To The Feeling of 'ThankS' alive in the Heart of Every Living Being That-

 'O Wonderful 'ThankS' - Today YOU accept my ThankS that YOU gave Such a Moment to Every Living Being When it is filled with Your Feeling, 'ThankS' a lot of love to YOU O, Beautiful ThankS.

 O Amazing ThankS, Thank YOU from My Heart!'

---*---

 मेरी हर सांस 'धन्यवाद' से ही आती है; मेरा हर कदम 'धन्यवाद से ही उठता है; मेरा हर कर्मा 'धन्यवाद' की ही दुआ है ; मेरा हर पल 'धन्यवाद' के आशिर्बाद से ही खिलता है।
सो 'धन्यवाद' सब का। 
क्या ऐसा भी कोई एहसास है, जिस को मैंने आज ख़ास 'धन्यवाद' कहना है।  तो मेरा ख्याल खिल कर महकने लगा।  ख़ास 'धन्यवाद' ! आज मैंने भी किसी को 'धन्यवाद' कहना है, पर कहना किसी ख़ास को है। कौन है वो ?
आज मैंने ख़ास 'धन्यवाद' उस का करना है जिस की वजह से इस 'धन्यवाद' का जन्म हुआ। 
वो सुन्दर एहसास, जिस के कारण किसी भी जीव में 'धन्यवाद' का भाव पैदा होता है; वो अनुभव जो बहुत गहरा होता है पर जीव के पास कहने केलिए ज़ुबान का भी साथ नहीं होता; वो अनुभव जो जीव के अस्तित्व को झुका देता है; जो आखों को पानी से भर देता है; जो ज़ुबान से शब्दों को छीन लेता है; जो खुद को हर लफ्ज़ से भी छोटा मानता है; वो पल जिसको 'धन्यवाद' कहना भी बहुत छोटा महसूस होता है; बस जीव झुक जाता है। उस पल को- उस एहसास को -उस अनुभव को - उस झुकी हुई नज़र को - हर उस जीव के दिल में ज़िन्दे 'धन्यवाद' के एहसास को आज मैं  'धन्यवाद' कहना चाहती हूँ कि-
 'ऐ अद्भुत 'धन्यवाद' - आज तू मेरा धन्यवाद कबूल कर कि तुमने ऐसा पल हर जीव को दिया जब वो तेरे भाव से भर जाता है, 'धन्यवाद' तेरा को बहुत प्यार। 
 ऐ अच्छे धन्यवाद- तेरा दिल से धन्यवाद !'
---*---


میری ہر سانس 'شکریہ' سے آتی ہے۔ میرا ہر قدم 'شکریہ' سے اٹھتا ہے۔ میرا ہر عمل 'شکریہ' کی نعمت ہے۔ میرا ہر لمحہ 'شکریہ' کی برکتوں سے پھولا ہے۔
تو 'شکریہ' ہر ایک۔
کیا کوئی ایسا احساس ہے کہ مجھے آج ایک خاص 'شکریہ' کہنا ہے؟ تو میرے خیالات کھلنے لگے۔ خصوصی شکریہ'! آج مجھے بھی کسی سے 'شکریہ' کہنا ہے، لیکن یہ کہنا کسی خاص سے ہے۔ وہ کون ہے؟
آج مجھے ایک خاص 'شکریہ' دینا ہے جس کی وجہ سے یہ 'شکریہ' پیدا ہوا۔
وہ خوبصورت احساس، جس کی وجہ سے کسی بھی جاندار میں 'شکریہ' کا احساس پیدا ہوتا ہے۔ وہ تجربہ جو بہت گہرا ہے لیکن روح کے پاس کہنے کی زبان بھی نہیں ہے۔ وہ تجربہ جو زندہ ہستی کے وجود کو جھکاتا ہے؛ جو آنکھوں میں پانی بھرتا ہے۔ جو زبان سے الفاظ چھین لیتا ہے۔ وہ جو اپنے آپ کو ہر لفظ سے چھوٹا سمجھتا ہے۔ وہ لمحہ کہ 'شکریہ' کہنا بھی بہت چھوٹا لگتا ہے۔ مخلوق بس جھکتی ہے۔ آج میں اس لمحے کے لیے 'شکریہ' کہنا چاہتا ہوں - اس احساس کے لیے - اس تجربے کے لیے - اس جھکی ہوئی نگاہوں کے لیے - ہر جاندار کے دل میں زندہ 'شکریہ' کے احساس کے لیے۔
 'اے کمال کا 'شکریہ' - آج آپ میرا شکریہ قبول کرتے ہیں کہ آپ نے ہر جاندار کو ایسا لمحہ دیا جب وہ آپ کے احساس سے بھرا ہوا ہے، 'شکریہ' آپ کو بہت پیار ہے اے، خوبصورت شکریہ۔
 اے حیرت انگیز شکریہ، میرے دل سے آپ کا شکریہ!'

When my incompleteness got complete

Tuesday, November 23

When my incompleteness got complete





When I recognized the beauty of the completeness of the incompleteness, then all my incompleteness also became completely complete.



Every step of my journey was lived perfectly - this perfection was considered the secret of beauty.
-
मेरी यात्रा का हर कदम सम्पूर्ण जिया-यह सम्पूर्णता ही सुंदरता का रहस्या समझा गई।
 





I saw and understood the totality of the negative part, saw a deep layer of positivity in the beauty of the negative, like a diamond lying in a coal mine. Since then my feet started walking on the sandy path. 
-
मैंने नकारत्मिक हिस्से की भी सम्पूर्णता देखी और समझी, नकारत्मिक की सुंदरता में सकारत्मिक्ता की गहरी परत देखी जैसे किसी कोयले की खान हीरा पड़ा हुआ है। तब से मेरे कदम रेतली राह पर चलने लगे।
 



I have never seen incompleteness till today, because I have also seen incompleteness in completeness of incompleteness.
मैंने आज तक अधूरापन कभी देखा ही नहीं , क्योंकि मैंने अधूरेपन को भी अधूरेपन की सम्पूर्णता में देखा है। 








There is nothing incomplete in life, when we look through the window, the sky is always a little visible. 
जीवन में अधूरा कुछ भी नहीं, जब हम खिड़की से देखतें हैं तो आसमान सदा ही थोड़ा सा दिखाई देता है।
 





Whenever I looked carefully at every part of life, every thing, every path, every direction, every thought and every step, and I saw how complete everything is in itself. How complete is the incompleteness of incompleteness - Wow
-
ज़िंदगी का हर हिस्सा, हर चीज़ , हर राह , हर दिशा, हर सोच और हर कदम को जब भी मैंने गौर से देखा और यही नज़र आया कि हर चीज़ खुद में कितनी सम्पूर्ण है। अधूरेपन का अधूरापन भी कितना सम्पूर्ण है -वाओ 



अधूरेपन की सम्पूर्णता की सुंदरता को जब मैंने पहचाना तो मेरा तमाम अधूरापन भी सम्पूर्ण रूप में सम्पूर्ण हो गया।


When You Make a House a Temple, Then

Monday, November 22

When You Make a House a Temple, Then!





When our life becomes a circumambulation, then this universe becomes a religious place for us – in Which our every emotion becomes a pure learning.









When the flowers of happiness Bloom in the house, that Fragrance gives peace to the Mind.
-
 जब घर में ख़ुशी के फूल खिलते हैं तो वो खशबू मन को तंदरुस्ती देती है। 
---












When we Bow down with love at home, that Bowing gives health to the body.
-
जब घर में हम प्यार से झुकते हैं तो वो झुकना जिस्म को तंदरुस्ती देता है। 
- -









When we light the candle of Trust in the house, then our understanding becomes healthy.
-
जब घर में हम भरोसे की मोमबत्ती जगातें हैं तो हमारी समझ तंदरुस्त होती है। 
--










When we light incense sticks of Patience and contentment in the house, then life starts living in health.
-
जब घर में हम सब्र- संतोष की अगरबत्ती जलाते हैं तो जीवन तंदरुस्ती में जीने लगता है।






जब हमारा जीना एक परिक्रमा बन जाता है तो हमारे लिए यह ब्रह्मण्ड एक धार्मिक जगह बन जाती है- जिस में हमारी हर भावना एक शुद्ध सीख बन जाती है। 

Come be the inspiration of the Moment! ( Quotes)

Sunday, November 21

Come be the inspiration of the moment!

आओ पल की प्रेरणा बनिए !





When We carefully consider any Event or Situation, in the end WE Stand in the Moment, Which gives us the Right understanding


 





Only the statement that is spoken at the right time has its value.
-
जो कथन सही वक़्त पर बोला जाए, सिर्फ उस की ही कीमत होती है। 














The person who wins by fighting - that day belongs to that person, but the person who stops fighting, then life becomes that person's.
-
जो व्यक्ति झगड़ा करके जीत जाता है- वो दिन उसी व्यक्ति का होता है पर जो व्यक्ति झगड़ा करने से रुक जाए, तो जीवन ही उस व्यक्ति का हो जाता है 










It takes a right action to like someone; There must be a good reason for leaving someone like this.
-
किसी को पसंद करने के लिए एक सही एक्शन ज़रूर होता है; ऐसे ही किसी को छोड़ने केलिए भी एक सही वजह ज़रूर होती है। 










Only a person who has the zeal to fight can talk of peace; Only the person who has the courage to sacrifice can become the king and the person who desires complete freedom, only he can love.
-
जिस व्यक्ति में लड़ने का जिगरा होता है, वोही शान्ति की बात कर सकता है; जिस व्यक्ति में त्याग करने की हिम्मत होती है, वो ही राजा बन  सकता है और जिस व्यक्ति में पूर्ण आज़ादी की चाहना होती है, सिर्फ वोही प्यार कर सकता है। 







You have never seen in such a way that even common words can change our lives – what religious books cannot do, they do common and heard things for us.
-
आप ने कभी ऐसे नहीं देखा कि आम कही हुई बात भी हमारे जीवन को बदल देती है- जो काम धार्मिक किताबें नहीं  कर पाती, वो काम हमारे लिए आम कही और सुनी हुई बात कर देती है। 










In which relationship have you ever felt yourself melting?
-
आप ने किस रिश्ते में कभी खुद को पिघलते हुए महसूस किया है?













The only thing in life that we are capable of learning is how to be in harmony?
-
जीवन में सिर्फ एक ही चीज़ सीखने के काबिल है कि हम लयबद्ध कैसे हो?








What is life? What is the definition of life? Why are we in life?
The truth of all life, once discovered, is understood - everything is a question only till that time - until we understand that thing. Every issue of life becomes easy when we understand life.
-
जीवन क्या है? जीवन की परिभाषा क्या है? हम जीवन में क्यों हैं?
एक बार खोजे जाने के बाद सभी जीवन के सत्य की समझ आ जाती है - हर चीज़ सवाल उस वक़्त तक ही है- जब तक हम उस चीज़ को समझते नहीं। जीवन का हर मुद्दा आसान हो जाता है जब हम जीवन को समझ जातें हैं। 





I live every moment as if it is my last moment. Because I have known that the light of the right moment keeps life bright all the time.
-
मैं हर पल को ऐसे ही जीती हूँ जैसे कि यह मेरा आखरी पल है। क्योंकि मैंने जाना है कि सही पल की रौशनी ही जीवन को तमाम उम्र रोशन रखती है। 










The limit of anything is never diminished – because every limit has taken a limited form for the seeing of the infinite.
-
किसी भी चीज़ की सीमा कभी भी कम नहीं होती- क्योंकि हर सीमा ने किसी असीम को देखने के लिए ही सीमित रूप धारण किया है। 











The goal of living changes after every 50 years; The film industry calls this a trend; Businessmen call it fashion; Politicians call it dynasty and common people call it generation; In this trend, in every generation, there is one person, or some other subject; In whom there is a new thinking - there is a new idea - there is a new window of view of life, that is what we call the leader of the times.
-
हर ५०साल के बाद जीने का लक्श  बदलता है  ;फिल्म इंडस्ट्री इस को ट्रेंड कहती है ; बिजनेसमैन फैशन कहता है;राजनेता उस को वंश कहतें हैं और आम लोग उस को जेनरेशन कहतें हैं ; इस हर ट्रेंड में, हर जेनरेशन में एक व्यक्ति हो, या कोई और विषय ; जिस में  एक नई सोच होती है-नया आईडिया होता है- जीवन को देखने की एक नई खिड़की होती है उसी को हम फिर वक़्त का लीडर कहतें हैं। 


किसी भी घटना को या हालात को जब हम गौर से विचारते हैं तो आखिर में हम पल में खड़े हो जातें हैं, जो हम को सही समझ दे जाता है 













Deep Truth

Monday, November 8

  

Deep Truth





Anything that is a deep truth in life will always turn out to be a deep lie - because it is so simple and so easy.

For me the truth of life is that if the questions are beautiful and good, then your life is happy, because beautiful questions are born from beautiful experiences. I took it from the question entered into the universe and the question itself answered me and made my life happy.

like:

 I have a question which I am asking to God and to the universe. I get the answer to that question when I saw a poor person or saw a dry tree. Meaning that I got the answer through a dry tree.

If I hadn't asked that question, I wouldn't have had the experience of a beautiful answer today. Fine!

We all always want to be called intelligent and we are always ready to answer, even if the answer is wrong. If anyone has any problem, then immediately we hear the answer - worship, recite, read the Gita, pray - just trust God - it is late in God's house, there is no darkness. On the other hand- God helps those who help themselves.

 'Very good'

Now how do we understand? From here we left - came there and stopped again. If the question is mine, then the answer is also somewhere within me, I have to find it. Whatever anyone says, whatever answer they give, I will never get satisfaction.

 One question had opened the door to the universe for me. Whenever we make a question a path, we start getting answers to every path of life.

-

 गहरा सच



जीवन में कोई भी जो गहरा सच होता है, वो सदा ही गहरा झूठ दिखाई देगा- क्योंकि वो बहुत ही सरल और बहुत ही सहज होता है 

मेरे लिए जीवन का सच यही है कि अगर सवाल सुन्दर और अच्छे हैं तो आप का जीवन सुखी है, क्योंकि सुन्दर सवालों का जन्म सुन्दर अनुभवों से ही होता है। मैंने ब्रह्मण्ड में दाखिल सवाल से ही लिया था और सवाल ने ही मेरे को जवाब दिया और मेरा जीना सुखी कर दिया।

जैसे:

 मेरे में एक सवाल है जो मैंने खुदा से और ब्रह्मण्ड से पूछ रही हूँ। मेरे उस सवाल का जवाब मुझ को उस वक़्त मिलता है- जब मैंने एक गरीबडे व्यक्ति को देखा या किसी सुके पेड़ को देखा।  मतलब कि सुके  पेड़ के ज़रिये मेरे को जवाब मिल गया।  

अगर मैंने वो सवाल न पूछा होता तो आज मेरे पास खूबसूरत जवाब का अनुभव नहीं होना था। ठीक!

हम सब सदा ही समझदार कहलाना चाहतें हैं और हम जवाब देने केलिए सदा ही त्यार रहतें हैं, चाहे जवाब गलत ही हो।  अगर किसी को कोई तकलीफ है तो झटपट हम जवाब सुनते  हैं- पूजा किया करो, पाठ किया करो, गीता को पढ़ा करो, प्रार्थना किया करो- बस खुदा पर भरोसा किया करो- खुदा के घर देर है, अंधेर नहीं है। दूसरी तरफ- खुदा उन की मदद करता है, जो खुद की मदद करतें हैं। 

 'बहुत खूब'

अब हम समझेंगे कैसे? यहाँ से हम चले थे- वहीँ आ कर फिर रुक गए।  अगर सवाल मेरा है तो जवाब भी मेरे ही भीतर कहीं पर है, मुझे खोजना ही पड़ेगा।  कोई कुछ भी कहे, कुछ भी जवाब दे, कभी भी मेरे को संतुष्टि नहीं मिलेगी।  

 एक सवाल ने मेरे लिए ब्रह्माण्ड का दरवाज़ा खोल दिया था। जब भी हम सवाल को राह बनाते हैं तो हम को जीवन की हर राह का जवाब मिलने लग जाता है। 

How do We make ourselves Wise?

Sunday, November 7

How do We make ourselves wise? 





If the Questions are beautiful and good, then your life is valuable

How do We make ourselves wise?

The question is what makes you think?

When any question becomes a thinking - it becomes a ladder to take our understanding forward.
We are going on thinking, but we do not understand the question, so leave it - and forget.

Sometimes this question will haunt you silently, won't even let you sleep - so pray before the universe - and then forget.

Is there someone in your life whom you can talk to about this question? So talk.

Even after talking, if you do not understand, then forget and relax.

live life as you are living it

Now we have to go ahead- wait 







What kind of change do you want to bring in yourself?











How do you treat people who will do nothing for you?









What are you most afraid of?










What is your favorite thing (anything) in life?











What is the best and worst event in your life?


 




अगर सवाल सुन्दर और अच्छे हैं तो  आप का जीवन मूल्यवान  है

Amazing Nature

Amazing Nature
When following the Trail of Colorful Emotions and Beautiful Divine Connection, Then Life blossoms, Love begins to flow because True and Pure feeling is the living land of Love and a more beautiful abode to live in the Heart during the JOURNEY OF LOVE Creating is a priceless feeling. But in Those moments there are some of the most amazing Moments too, Which become functional to see Life in full Bloom with Divine Connection and Divine Action like SPRING. When Our Thoughts also Blossom in our Life. It is these Moments that make us Aware and make OUR life an ART OF JOY...