BREAKING NEWS
latest

My life renews in fall

My life renews in fall
मैं भरपूर खालीपन की एक वजूद हूँ, जिस में मेरा अनुभव पूर्ण संतुष्टि का है। जिस में मैंने देखा कि मैं ही मेरा एक ऐसा पतझड़ का मौसम हूँ, जिस की हर सोच और भावना ,मन की पेड़ से ऐसे झड़ गई,जैसे कि पत्ता झड़ता है। मेरा यह पतझड़ मेरे लिए असली बहार ऋतू बन गया- मतलब कि मेरी 'जीवन-मुक्ति' बन गया

What a Spring in my life!







When I am absent there is no Time, 
and it is always the present





 Today:
I will walk through the day with spring in my step, 
a smile in my body 
and
 I will have nothing to say about my healthy life, 
wow! 

I will enjoy the aroma of nature, 
and
 the flowering from the inside of me 
to the outside of me!

Will we go through our day today smiling?


« PREV
NEXT »
The best cure of the body is a quite mind:. Powered by Blogger.

Thanks you came here

Thanks you came here

Subscribe

Contact Form

Name

Email *

Message *